IP Address क्या है | इसके प्रकार | इसे कैसे पता करें

0

IP Address Kaise Pata Kare – इस लेख में हम ‘IP Address क्या है और कैसे पता करे’ के विषय पर पूरी जानकारी देंगे। हम सभी लोग इंटरनेट का काफी उपयोग करते हैं लेकिन कई लोग इससे जुडी हुई सामान्य बातो की जानकारी तक नहीं रखते जिनमे से एक IP Adress भी हैं जिसके बारे में हम इस लेख में बात करेंगे।

IP Address क्या है

इंटरनेट की शुरुआत हुए अधिक समय नहीं हुआ हैं लेकिन उसके बावजूद भी यह दुनिया में सबसे तेजी से फैलने वाली चीजों में से एक रहा हैं जिसने कुछ सालो में ही दुनिया को जैसे बदलकर रख दिया हैं। इन्टरनेट से ही सम्बंधित चीज़ है आईपी एड्रेस, चलिए जानते हैं कि यह क्या है.

IP Address क्या है

IP Address को सटीक रुप से समझने के लिए हमें शुरुआत करनी होगी इंटरनेट से, इंटरनेट को कम शब्दों और सरल भाषा में समझने के लिए यह कहा जा सकता हैं की यह एक ऐसा नेटवर्क हैं जो दुनिया भर के कम्प्यूटर्स को आपस में जोड़ने का कार्य करता हैं।

लेकिन इस बड़े नेटवर्क में एक सटीकता बनाये रखने के लिए एक ऐसा माध्यम जरूरी होता हैं जो आवश्यकता के अनुसार दो या अधिक कम्प्यूटर्स के बिच में एक समन्वय बना सके। यानि की अगर आपको कोई फाइल डाउनलोड करनी हो तो वह आपके कम्यूटर में ही हो किसी अन्य कम्प्यूटर में नहीं।

इसी माध्यम को कहा जाता हैं IP Address. इंटरनेट पर हर कम्प्यूटर का एक एड्रेस होता हैं जिसे IP Address कहा जाता हैं। IP Address संख्याओं का एक सेट होता हैं जो सामान्य तौर पर काम करता हैं एक डिजिटल एड्रेस की तरह। IP Address का काम होता हैं कम्प्यूटर की पहचान करके उनके बिच में डाटा को ट्रांसफर करना। 

सरल भाषा में कहा जाए तो यह डाटा को सही जगह पहुंचाने के लिए एक डिजिटल एड्रेस होता हैं। अगर बात की जाये IP Address के फूल फॉर्म की तो वह Internet Protocol Address होता हैं।

IP Address का इस्तेमाल क्यों किया जाता है?

अगर बात की जाये ‘IP Address के इस्तेमाल के कारण’ की तो IP Address को इस्तेमाल किया जाता हैं, इंटरनेट की दुनिया में डिवाइज की पहचान के लिए जिससे की डाटा को आसानी से सही जगह से लेकर सही जगह पर पहुंचाया जा सके।

जिस तरह से सामान्य दुनिया में किसी लोकेशन की पहचान के लिए लोकेशन एड्रेस का प्रयोग किया हैं उसी तरह से IP Address का इस्तेमाल किया जाता हैं इंटरनेट की दुनिया में कम्प्यूटर या फिर कहा जाये तो इंटरनेट से जुड़े डिवाइज की पहचान के लिए।

अर्थात जिस तरह से किसी लोकेशन के एड्रेस का उपयोग करके वहा चिट्ठियां या पैकेज आदि पहुचाये जाते हैं। उसी तरह से इंटरनेट की दुनिया में किसी स्पेसिफिक डिवाइज से किसी दूसरे स्पेसिफिक डिवाइज तक डाटा ट्रांसफर के लिए IP Address का इस्तेमाल किया जाता हैं।

आईपी एड्रेस कितने प्रकार के होते हैं

IP Address क्या होता है और इसका इस्तेमाल क्यों किया जाता हैं के विषय पर तो हम बात कर चुके हैं लेकिन अब यह जानना भी जरूरी है की आखिर IP Address के प्रकार क्या होते हैं? तो अब अगर बात की जाये IP Address के प्रकार की तो इसके मुख्य रुप से 4 प्रकार हैं जो कुछ इस प्रकार हैं:

Private IP Address: यह वह IP Address होते हैं जो प्राइवेट नेटवर्क में इस्तेमाल होते हैं। इस तरह के IP Address को मेनुअली सेट करके एक प्राइवेट नेटवर्क तैयार किया जाता हैं। प्राइवेट आईपी एड्रेस का इस्तेमाल सामान्य तौर पर किसी एक कम्प्यूटर या फिर कहा जाये तो डिवाइज को प्राइवेट डिवाइज से जोड़ने के लिए किया जाता हैं।

Public IP Address: पब्लिक IP Address इंटरनेट की दुनिया को सम्भव बनाने का काम करता हैं। यह एक रास्ता बनाता हैं दुनिया भर के कम्प्यूटर को उनकी जरूरत के अनुसार एक दूसरे से जोड़ने के लिए। सरल भाषा में अगर Public IP Adress को समझा जाये तो यह एक दुनिया भर के Websites और कम्प्यूटर्स या फिर कहा जाए तो Devices को एक साथ Directly कम्युनिकेट करने में मदद करता हैं।

Dynamic IP Address: यह एक ऐसा IP Address हैं जिसे डायनामिक होस्ट कॉन्फ़िगरेशन प्रोटोकॉल सर्वर्स पर आधारित होता हैं। इसे DHCP (Dynamic Host Configuration Protocol) Servers एसाइन्ड किया जाता हैं कम्यूटर्स में कम्युनिकेशन बनाने के लिए। यह एक Secured और Strong Network बनाने के लिए इस्तेमाल होता हैं।

Static IP Address: अगर कोई IP Address DHCP पर आधारित नही होता अर्थात कम्प्यूटर या फिर कहा जाए तो Device जो इंटरनेट से जुड़ा हैं DHCP Enabled नहीं होती या उसे Support नहीं करती तो IP Address को Manually Assigned करके काम मे लिया जाता हैं। इस तरह के IP Address को Static IP Address कहा जाता हैं।

IP Address के वर्शन

IP Address के बारे में पूरी जानकारी लेने के लिए IP Address के Versions के बारे में जानकारी लेना भी जरूरी हैं। अगर IP Address के Versions के बारे में बात की जाए तो वर्तमान में मुख्य रूप से 2 Versions प्रयोग में हैं, जो कुछ इस प्रकार हैं:

IPv4 वर्शन

IPv4 एक पुराना IP Address Version था जिसे SATNAT पर 1984 और ARPANET पर 1983 में लाया गया। जिस समय IPv4 को लॉन्च किया गया था उस समय डिवाइज कम थे और इंटरनेट का उपयोग बेहद कम किया जाता था तो इसमें कम नम्बर प्रयोग किये जाते थे। लेकिन आगे जब संख्या बढ़ी तो एक नए IP Address Version की जरूरत पड़ी।

IPv6 वर्शन

IPv6 एक नया IP Address Version हैं जो वर्तमान समय मे मुख्य रुप से उपयोग किया जाता हैं। IPv4 के समय में कम्प्यूटर्स की संख्या कम थी और कम लोगो के पास इंटरनेट का एक्सेस था। लेकिन जब डिवाइज और इंटरनेट का उपयोग करने वाले लोगो की संख्या बढ़ी तो एक नए IP Address की जरूरत पड़ी जिसमे ज्यादा नम्बर्स का एड्रेस हो, तब IPv6 को लॉन्च किया गया।

IP Address का पता कैसे करें?

IP Address पता करना अधिक मुश्किल नहीं हैं। इसके लिए काफी सारी साइट्स मौजूद हैं जिनके द्वारा आप आसानी से IP Address का इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन इन साइट्स के द्वारा आप मात्र Public IP Address के बारे में ही पता कर सकते हैं।

पब्लिक IP Address कैसे पता करें

अगर आप Public IP Address के बारे में पता करना चाहते हैं तो इसके लिए Internet पर कई वेबसाइट्स मौजूद हैं। अगर बात की जाए IP Address पता करने के लिये कुछ लोकप्रिय Websites की तो उनमे WhatIsIP.org, IPlogger.org और WhatIsMyIPAddress.com जैसी लोकप्रिय वेबसाइट्स शामिल हैं।

जिनके द्वारा आसानी से Public IP Address के बारे में पता लगाया जा सकता हैं। इन वेबसाइट्स पर जाकर आप अपना IP Address आसानी से कुछ Seconds में चेक कर सकते हो।

IP address check करने के लिए आपको बस ऊपर बताई गई इन IP Address Checker Sites जैसे कि WhatIsMyIPAddress.com पर जाना हैं, जैसे ही आप Website पर पहुँचोगे आपको आपके IP Address के बारे में बता दिया जाएगा। 

यह एक प्रकार का Number और Alphabets का एक लंबा से Internet Protocol Address होगा। इस तरह से आप आसानी से IP Address का पता कर सकते हो, वो भी केवल कुछ सेकण्ड्स में।

प्राइवेट IP Address कैसे पता करें

वही अगर Private IP Address के बारे में बात की जाए तो इसे चेक करना उतना आसान नही होता जितनी आसानी से आप Public IP Address को चेक कर सकते हैं। लेकिन कुछ तरीको को फॉलो करके आप Private IP Address को भी पता कर सकते हैं। हर तरह के Device में IP Address को पता करने के लिए एक अलग तरीका होता हैं। 

हर तरह के Device जैसे कि Android, IOS, Windows आदि के लिए IP Address पता करने के लिए एक अलग तरीका उपयोग होता हैं।

अगर आप Windows में IP Address पता करना चाहते हो तो उसके लिए आपको Command Prompt का इस्तेमाल करना पड़ेगा। Linux Device में आपको IP Address पता करने के लिए Terminal Windows को Launch करना होगा। MacOS में आप Command ifconfig का उपयोग करके IP Address पता कर सकते हो। 

IOS में आपको Settings App में Network या Wifi Section में IP Address के बारे में पता चलेगा तो वही Android में आपको Settings में Network सेक्शन में IP Address के बारे में पता चलेगा।

अंतिम शब्द

विभिन्न तरीकों से हम दिन में कई घण्टे इंटरनेट पर बिताते हैं लेकिन इससे जुड़ी कई सामान्य बातों के बारे में हमको जानकारी नहीं होती। Internet से जुड़ी एक महत्वपूर्ण चीज होती हैं IP Address जिसके बारे में कई लोगो को पता नहीं हैं और यही कारण हैं कि हमने यह लेख तैयार किया हैं।

ये भी पढ़ें:

इस लेख में हमने IP Address क्या होता है, IP Address का इस्तेमाल क्यों किया जाता हैं और IP Address कैसे पता करे जैसे विषयों पर पूरी जानकारी आसान भाषा मे देने की कोशिश की हैं। उम्मीद हैं कि यह लेख IP Address क्या होता है और कैसे पता करे आपको पसन्द होगा और आपके लिए ज्ञानवर्धक साबित हुआ होगा।

Harsh Lahre
दोस्तों, मै Harsh Lahre इस Fire Hindi ब्लॉग वेबसाइट का एडिटर और फाउंडर हूँ. इस ब्लॉग में हम टेक्नोलॉजी से रिलेटेड जानकारियाँ शेयर करते हैं. साथ ही आपकी तकनीकी समस्याओं का समाधान भी बताते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here